Govardhan Puja 2022 Annakut Puja गोवर्धन पूजा अन्नकूट पूजा

Govardhan Puja 2022 Date and Shubh Muhurt, Annakut Puja 2022 गोवर्धन पूजा 2022 तिथि और शुभ मुहूर्त की जानकारी, अन्नकूट पूजा 2022.

गोवर्धन पूजा को अन्नकूट पूजा भी कहा जाता है. यह उत्सव मुख्य रूप से दीपावली के बाद वाले दिन को मनाया जाता है. इसके संबंद्ध में हम निचे बात करेंगे.

यह उत्सव सम्पूर्ण भारत में अत्यंत ही हर्ष और उल्लास के साथ मनाया जाता है. गोवर्धन पूजा मुख्य रूप से भगवान श्री कृष्ण को समर्पित है.

धार्मिक मान्यताओं को अनुसार एक बार भगवान श्री कृष्ण ने ब्रजवासीयों को इंद्र देव की पूजा करने से मना कर दिया. इससे इंद्र देव कुपित हो गए. और ब्रज क्षेत्र पर मुसलाधार वर्षा करने लगे. तब भगवान श्री कृष्ण ने गोवर्धन पर्वत को अपनी ऊँगली पर उठा लिया था.

सभी ब्रजवासी गोवर्धन पर्वत के निचे सकुशल रहे थे. इस तरह से भगवान श्री कृष्ण ने सात दिनों तक गोवर्धन पर्वत को अपनी छोटी ऊँगली पर गोवर्धन पर्वत को उठा कर रखा था.

सातवें दिन उन्हें उसे निचे रखा. इंद्र देव के क्षमा मांगने पर श्री कृष्ण ने उन्हें क्षमा कर दिया था. तभी से इस दिन गोवर्धन पूजा की जाती है, और अन्नकूट उत्सव मनाया जाता है.

गोवर्धन पूजा के दिन बिभिन्न प्रकार के व्यंजन बनाकर भगवान श्री कृष्ण को भोग लगाया जाता है.

इस दिन Govardhan Aarti गोवर्धन आरती भी की जाती है.

Govardhan Puja 2022 Date and Shubh Muhurt

गोवर्धन पूजा प्रत्येक वर्ष कार्तिक महीने की शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि को मनाया जाता है. अधिकतर यह दिवाली के दुसरे दिन होता है.

इस साल यानी की 2022 में यह 26 अक्टूबर 2022 दिन बुधवार को मनाया जाएगा.

Govardhan Puja 2022 Date
Annakut Puja 2022 Date
26 October 2022, Wednesday
गोवर्धन पूजा 2022
अन्नकूट पूजा 2022
26 अक्टूबर 2022, बुधवार

अब हम गोवर्धन पूजा 2022 के शुभ मुहूर्त के बारे में जानकारी प्राप्त कर लेतें हैं.

गोवर्धन पूजा 2022 प्रातः काल पूजा मुहूर्त26 अक्टूबर 2022, बुधवार
प्रातः काल 6 : 12 बजे से 8 : 32 बजे तक

अब हम प्रतिपदा तिथि के प्रारंभ और समाप्त होने के समय के बारे में जानकारी प्राप्त कर लेतें हैं.

प्रतिपदा तिथि प्रारंभ25 अक्टूबर 2022
04:18 pm
प्रतिपदा तिथि समाप्त26 अक्टूबर 2022
02:42 pm

शुभ मुहूर्त के समय में स्थान के अनुसार कुछ भिन्नता हो सकती है. आप अपने पंडित और ज्योतिष से इस समबन्ध में और जानकारी प्राप्त कर सकतें हैं.

आज के इस पोस्ट में बस इतना ही. आप हमारे अन्य प्रकाशनों को भी देखें.

Om Jai Lakshmi Ramana Aarti ॐ जय लक्ष्मी रमणा आरती

Bhagwat Geeta Ki Aarti श्रीमद् भगवद्गीता की आरती

Shri Banke Bihari Ji Ki Aarti श्री बांके बिहारी जी की आरती

Aarti Balkrishna Ki Kije आरती बालकृष्ण की कीजै

Bhagwan Badrinath Ji Ki Aarti भगवान बद्रीनाथ जी की आरती

Know more about Govardhan Puja from Wikipedia Page.

Leave a Comment