Jai Jai Shri Badrinath Aarti जय जय श्री बद्रीनाथ आरती

Jai Jai Shri Badrinath Aarti जय जय श्री बद्रीनाथ आरती – भगवान श्री बद्रीनाथ जी की आरती आप इस आरती के द्वारा भी कर सकतें हैं. श्री बद्रीनाथ जी की अन्य आरती के लिए आप निचे दिए गए लिंक पर क्लीक कर देख सकतें हैं.

Bhagwan Badrinath Ji Ki Aarti – पवन मंद सुगंध शीतल,
हेम मंदिर शोभितम् |

Jai Jai Shri Badrinath Aarti जय जय श्री बद्रीनाथ आरती

जय जय श्री बद्रीनाथ,
जयति योग ध्यानी ||

जय जय श्री बद्रीनाथ,
जयति योग ध्यानी ||

निर्गुण सगुण स्वरूप,
मेधवर्ण अति अनूप |
सेवत चरण सुरभूप,
ज्ञानी विज्ञानी |

जय जय श्री बद्रीनाथ,
जयति योग ध्यानी ||

झलकत है शीश छत्र,
छवि अनूप अति विचित्र |
बरनत पावन चरित्र,
स्कुचत बरबानी |

जय जय श्री बद्रीनाथ,
जयति योग ध्यानी ||

तिलक भाल अति विशाल,
गल में मणि मुक्त-माल |

प्रनत पाल अति दयाल,
सेवक सुखदानी |

जय जय श्री बद्रीनाथ,
जयति योग ध्यानी ||

कानन कुण्डल ललाम,
मूरति सुखमा की धाम |

सुमिरत हों सिद्धि काम,
कहत गुण बखानी |

जय जय श्री बद्रीनाथ,
जयति योग ध्यानी ||

गावत गुण शंभु शेष,
इन्द्र चन्द्र अरु दिनेश |

विनवत श्यामा हमेश,
जोरी जुगल पानी |

जय जय श्री बद्रीनाथ,
जयति योग ध्यानी ||

हमारे अन्य प्रकाशनों को भी देखें –


Jai Shri Ramdev Avtari Aarti
Om Jai Ajmal Lala Aarti

Aarti Sankat Hari Ki -आरती संकट हारी की

Aarti Karo Harihar ki – आरती करो हरिहर की

बद्रीनाथ मंदिर के बारे में जानकारी आप विकिपीडिया से प्राप्त कर सकतें हैं.

Leave a Comment