Shailputri Mata Ki Aarti

Shailputri Mata Ki Aarti – शैलपुत्री माता की आरती – नवरात्री के पहले दिन माँ शैलपुत्री की आराधना और स्तुति की जाती है.

शैलपुत्री माता को नवदुर्गा में प्रथम स्थान प्राप्त है. माता शैलपुत्री हिमालय की पुत्री हैं. माता का वाहन वृषभ है. उनके दाहिने हाथ में त्रिशूल और बाएं हाथ में कलम पुष्प रहता है.

आज के इस पोस्ट में हम माता शैलपुत्री की आरती विडियो के साथ प्रकाशित किये हैं. आप सम्पूर्ण श्रद्धा और भक्ति के साथ शैलपुत्री माता की आरती करें.

Shailputri Mata Ki Aarti – शैलपुत्री माता की आरती

|| शैलपुत्री माता आरती ||

शैलपुत्री मां बैल असवार |
करें देवता जय जयकार ||

शिव शंकर की प्रिय भवानी |
तेरी महिमा किसी ने ना जानी ||

पार्वती तू उमा कहलावे |
जो तुझे सिमरे सो सुख पावे ||

ऋद्धि-सिद्धि प्रदान करे तू |
दया करे धनवान करे तू ||

सोमवार को शिव संग प्यारी |
आरती तेरी जिसने उतारी ||

उसकी सगरी आस पुजा दो |
सगरे दुख तकलीफ मिटा दो ||

घी का सुंदर दीप जला के |
गोला गरी का भोग लगा के ||

श्रद्धा भाव से मंत्र गाएं |
प्रेम सहित फिर शीश झुकाएं ||

जय गिरिराज किशोरी अंबे |
शिव मुख चंद्र चकोरी अंबे ||

मनोकामना पूर्ण कर दो |
भक्त सदा सुख संपत्ति भर दो ||

Shailputri Aarti Lyrics

|| Shailputri Mata Ki Aarti ||

Shailputri Maa Bail Asvar.
Karen Devta Jay Jaykar.

Shiv Shankar Ki Priya Bhavani.
Teri Mahima Kisi Ne Na Jani.

Parvati Tu Uma Kahlaawe.
Jo tujhe Simre So Sukh Paawe.

Riddhi Siddhi Pradan Kare Tu.
Daya Kare Dhanvan Kare Tu.

Somvar Ko Shiv Sang Pyari.
Aarti Teri Jisne Utari.

Uski Sagri Aas Puja Do.
Sagre Dukh Taklif Mita Do.

Ghee Ka Sundar Deep Jala Ke.
Gola Gari Ka Bhog Laga Ke.

Shraddha Bhaav Se Mantra Gaayen.
Prem Sahit Fir Shish Jhukaayen.

Jay Giriraj Kishori Ambe.
Shiv Mukh Chandra Chakori Ambe.

Manokamna Purn Kar Do.
Bhakt Sada Sukh Sampati Bhar Do.

विडियो

शैलपुत्री माता की आरती विडियो निचे दिया गया है.

Shailputri Mata Ki Aarti

Source : YouTube Video

Source : YouTube Video

हमारे अन्य प्रकाशनों को भी देखें.

Durga Chalisa दुर्गा चालीसा – पायें माँ दुर्गा से अभय वरदान

Chaitra Navratri 2021 चैत्र नवरात्रि २०२१

Jagdamba Mata Aarti जगदम्बा माता आरती

Aarti Jag Janani Main Teri Gaun आरती जग जननी मैं तेरी गाऊँ

Mangal Ki Seva Sun Meri Deva मंगल की सेवा सुन मेरी देवा

Durga Aarti दुर्गा आरती

Om Jai Ambe Gauri Aarti ॐ जय अम्बे गौरी आरती

By Shri Sanjay Ji

All the post of this site are write and managed by Shri Sanjay Ji. इस साईट की सभी प्रकाशन श्री संजय जी के द्वारा लिखी और मैनेज की जाती है.